खोई हुई चीज को पाने के लिए

इस आयत को पढ़कर खोई हुई चीज तलाश की जाए तो इंशाअल्लाह जरूर मिल जायेगी वरना गैब से कोई अच्छी चीज
मिलेगी-
‘व मिनन्नासि मैं यत्तखि़जु मिन दुनिल्लाहि अनदादइं युहिब्बूनहुम कहुब्बिल्लाहि। वल्लज़ी-न आमनू अशद्दु-हुब्बल
लिल्लाहि वलौ यरल्लज़ी-न ज़-लमू इज़ यरौनल अज़ा-ब अन्नल कुव्वत लिल्लाहि जमीऔं व अन्नल्ला-ह शदीदुल अज़ाब।’

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *